CIC ने खारिज की नरेंद्र मोदी और अमित शाह के खिलाफ अशोक लवासा की टिप्पणी को सार्वजनिक की अपील

10 अप्रैल को सीआईसी (CIC) ने अपने फैसले में भी चुनाव आयोग द्वारा लवासा की टिप्पणी को सार्वजनिक करने पर लगायी रोक को जारी रखने का आदेश दिया है।

CIC ने खारिज की नरेंद्र मोदी और अमित शाह के खिलाफ अशोक लवासा की टिप्पणी को सार्वजनिक की अपील

अप्रैल 20, 2020

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट के उल्लंघन के मामले में चुनाव आयुक्त अशोक लवासा की टिप्पणी को सार्वजनिक नहीं किया जाएगा। चुनाव आयोग के बाद अब सेंट्रल इन्फोर्मेशन कमीशन (CIC) ने भी इसे सार्वजनिक करने पर रोक लगा दी है। बता दें कि पीएम मोदी और अमित शाह को चुनाव आयोग ने मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट के उल्लंघन के मामले में क्लीन चिट दे दी थी। इस दौरान चुनाव आयुक्त अशोक लवासा ने कथित तौर पर इस पर आपत्ति जाहिर की थी।

चुनाव आयोग में मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा और इसके सदस्य अशोक लवासा और सुशील चंद्रा शामिल हैं। जिसमें सुनील अरोड़ा और सुशील चंद्रा ने पीएम मोदी और अमित शाह को क्लीन चिट देने का फैसला किया था, जबकि अशोक लवासा ने इसके खिलाफ टिप्पणी की थी।

बताते चले कि जसदीपक सिंह नामक व्यक्ति ने आरटीआई एक्ट की धारा 8(1)(जी) के तहत अशोक लवासा की टिप्पणी को सार्वजनिक करने की मांग की थी। जिस पर चुनाव आयोग ने जानकारी देने से मना कर दिया। चुनाव आयोग के इस फैसले के खिलाफ सीआईसी में अपील की गई। अब 10 अप्रैल को सीआईसी ने अपने फैसले में भी चुनाव आयोग द्वारा लवासा की टिप्पणी को सार्वजनिक करने पर लगायी रोक को जारी रखने का आदेश दिया है।

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App