चीन को कोरोनावायरस के लिए भुगतने होंगे दुष्परिणाम : डोनाल्ड ट्रंप

वाइट हाउस में बीते सोमवार को संवाददाता सम्मेलन में एक पत्रकार ने डोनाल्ड ट्रंप से सवाल किया कि इसके लिए चीन कोई दुष्परिणाम क्यों नहीं भुगत रहा? इसके जवाब में ट्रंप ने कहा, ‘आपको कैसे पता, इसके कोई दुष्परिणाम नहीं हैं?

चीन को कोरोनावायरस के लिए भुगतने होंगे दुष्परिणाम : डोनाल्ड ट्रंप

15 April 2020

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को संवाददाता सम्मेलन में एक सवाल का जवाब देते हुए इशारा किया कि कोरोना वायरस को लेकर डब्लूएचओ और अंतरराष्ट्रीय समुदाय को कथित रूप से गलत जानकारी देने के कारण चीन को दुष्परिणाम भुगतने होंगे। कोरोना का संक्रमण चीन के वुहान शहर से फैलना शुरू हुआ था।

वाइट हाउस में बीते सोमवार को संवाददाता सम्मेलन में एक पत्रकार ने डोनाल्ड ट्रंप से सवाल किया कि इसके लिए चीन कोई दुष्परिणाम क्यों नहीं भुगत रहा? इसके जवाब में ट्रंप ने कहा, ‘आपको कैसे पता, इसके कोई दुष्परिणाम नहीं हैं?’ इस बारे में पत्रकार द्वारा बार-बार सवाल किए जाने पर डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, ‘मैं आपको नहीं बताऊंगा। चीन को पता चल जाएगा। मैं आपको क्यों बताऊंगा?’ चीन के खिलाफ अमेरिकी सांसदों की टिप्पणियों के बीच अमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा, ‘आपको पता चल जाएगा।’

सीनेटर स्टीव डेन्स ने ट्रंप को पत्र लिखकर अपील की है कि अमेरिका सरकार चीन से चिकित्सकीय आपूर्ति व उपकरणों पर निर्भरता को समाप्त करे और अमेरिका में दवाइयां बनाने संबंधी नौकरियां वापस लेकर आए। रिपब्लिकन पार्टी के चार सांसदों ने भी चीन पर निर्भरता कम करने के लिए सोमवार को एक विधेयक भी पेश किया था।

इसी बीच ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री ने कहा कि “चीन का ‘वेट मार्केट’ खोलने पर डब्लूएचओ का समर्थन समझ से परे”

चीन के वुहान में ‘वेट मार्केट’ को दोबारा खोले जाने का समर्थन करने के विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के कदम को आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने समझ से परे करार दिया है। बता दे कि ‘वेट मार्केट’ ऐसा बाजार होता है जहां विभिन्न प्रजातियों के जिंदा और मृत पशु उपभोग के लिए बेचे जाते हैं। दुनिया भर में फैले कोरोनावायरस के संक्रमण की शुरुआत चीन के ‘वेट मार्केट’ से शुरू हुई थी। चीन के ‘वेट मार्केट’ में अजगर, कछुआ, गिरगिट, चूहा, चीते के बच्चे, लोमड़ी के बच्चे, चमगादड, पैंगोलिन, जंगली बिल्ली और मगरमच्छ का मांस बिकता है।

बताते चले कि ऐसा माना जा रहा है कि चीन के वुहान शहर में स्थित एक ‘वेट मार्केट’ से ही पिछले साल दिसंबर में कोरोना वायरस महामारी की शुरुआत हुई है और यह वायरस पशुओं से इंसानों में फैला है।

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)